अमेरिकी स्कूल पर हमलावर ने बरसाई ताबड़तोड़ गोलियां, 19 स्टूडेंट्स की मौत

0
216
सांकेतिक तस्वीर (इंग्लिश पोस्ट)
The Hindi Post

वॉशिंगटन | अमेरिका के टेक्सास प्रांत (उवाल्डे शहर) में एक स्कूल में बच्चों पर 18 वर्षीय हमलावर द्वारा अंधाधुंध फायरिंग करने का मामला सामने आया है। इस घटना में 19 स्कूली छात्रों की मौत हो गई है। वही दो स्कूल टीचर भी गोलीबारी का शिकार हो गए। घायलों को अस्पताल में शिफ्ट कर दिया गया है जहां उनका इलाज चल रहा है।

पुलिस ने हमलावर को मार गिराया 

वही पुलिस ने हमलावर को मार गिराया है। इस हमलावर ने जिसका नाम साल्वाडोर रामोस है ने सबसे पहले अपनी दादी को गोली मारी जो अभी जीवित हैं मगर गंभीर स्थिति में है और फिर उसके बाद रॉब एलिमेंटरी स्कूल जाकर बच्चों पर ताबड़तोड़ फायरिंग कर दी। इस दुखद घटना से पूरे अमेरिका में शोक की लहर दौड़ गई।

इस घटना में कुल 21 लोगों की मौत हो गई है जिसमें 19 स्कूली बच्चे है। मारे गए हमलवार की उम्र 18 वर्ष बताई जा रही है। उसके मकसद का अभी पता नहीं चल पाया है।

अंधाधुंध फायरिंग से स्कूल में मची भगदड़ 

हमलावर द्वारा फायरिंग करने से स्कूल में भगदड़ मच गई। बच्चे अपने को बचाने के लिए इधर-उधर भागने लगे। टीचर्स ने बच्चों को बचाने की कोशिश की। पूरे स्कूल में अफरातफरी का मौहोल बन गया। अभी यह नहीं पता चल पाया कि इस युवक ने ऐसा क्यों किया।

प्राप्त जानकारी के अनुसार, हमलावर ने पहले एक सेमी ऑटोमैटिक राइफल खरीदी और फिर उसका प्रयोग बच्चों को मारने के लिए किया।

यह भी जानकारी मिली है कि युवक ने अकेले ही घटना को अंजाम दिया। हालांकि पुलिस अभी जांच कर रही है। पुलिस ने कहा कि मृतकों में एक स्कूल की टीचर है।

रॉब एलिमेंटरी स्कूल जहां यह घटना हुई है वहां दूसरी, तीसरी और चौथी क्लास के बच्चे पढ़ते है।

अमेरिकी राष्ट्रपति ने जताया दुख

इस घटना पर अमेरिका के राष्ट्रपति जो बाइडेन ने गहरा दुख व्यक्त किया है। बाइडेन ने देश में गन कल्चर खत्म करने का आह्वान किया है। बाइडेन ने निराशा और गुस्से के साथ कहा, “एक राष्ट्र के रूप में, हमें पूछना होगा कि भगवान के नाम पर हम कब तक बंदूक की लॉबी के लिए खड़े होंगे और इसके खिलाफ क्या कर सकते हैं? जो माता-पिता अपने बच्चों को फिर कभी नहीं देख पाएंगे, उनके बारे में सोचने की जरूरत है। अमेरिकी राष्ट्रपति ने कहा कि अब एक्शन लेने का समय है। हमें उन लोगों को बताने की जरूरत है जो इस तरह कानून के खिलाफ जाकर बंदूक उठाते हैं, हम उन्हें माफ नहीं करेंगे।”

हिंदी पोस्ट वेब डेस्क
(इनपुट्स: आईएएनएस)

हिंदी पोस्ट अब टेलीग्राम (Telegram) और व्हाट्सप्प (WhatsApp) पर है, क्लिक करके ज्वाइन करे


The Hindi Post