सीबीआई ने राणा कपूर, वधावन के खिलाफ आरोप-पत्र दायर किए

यस बैंक के संस्थापक राणा कपूर (फाइल फोटो)

The Hindi Post

मुंबई | केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) ने 3,700 करोड़ रुपये की धोखाधड़ी के एक मामले में यस बैंक के संस्थापक राणा कपूर, उनके परिवार, दीवान हाउसिंग फायनेंस के प्रमोटरों और अन्य के खिलाफ एक आरोप-पत्र दायर किया है। एक अधिकारी ने गुरुवार को यह जानकारी दी।

विशेष सीबीआई न्यायाधीश के समक्ष दायर आरोप-पत्र में कपूर, उनकी बेटी रोशनी कपूर (डूईट अर्बन वेंचर, इंडिया की प्रमोटर), डीएचएफएल के कपिल आर. वधावन, धीरज आर. वधावन, और बिलीफ रियलटर्स और आरकेडब्ल्यू डेवलपर्स जैसी अन्य कंपनियों के नाम शामिल हैं।

सीबीआई ने यस बैंक के खिलाफ धोखाधड़ी के आरोपों से संबंधित आरोपियों और अन्य अज्ञात संस्थाओं के खिलाफ भ्रष्टाचार निवारक अधिनियम सहित विभिन्न कानूनों के तहत मार्च में एक मामला दर्ज किया था।

सीबीआई ने नौ मार्च को आरोपियों के परिसरों की तलाशी ली थी।

कपूर की आठ मार्च की गिरफ्तारी के दो महीने बाद मई के प्रारंभ में प्रवर्तन निदेशालय (ईडी) ने भी मुंबई की एक विशेष अदालत में धनशोधन निवारक अधिनियम के तहत एक अलग आरोप-पत्र दाखिल किए थे।

ईडी कपूर और उनके परिवार के सदस्यों द्वारा नियंत्रित एक कंपनी को 600 करोड़ रुपये का भुगतान किए जाने के आरोपों की अलग से जांच कर रहा है। इस कंपनी का डीएचएफएल के साथ संबंध है।

आईएएनएस

 


The Hindi Post

You may have missed

error: Content is protected !!