ललित मोदी ने आलोचकों को दिया करारा जवाब, कहा – मैं भगोड़ा नहीं हूं

0
299
इस तस्वीर को ललित मोदी ने इंस्टाग्राम पर साझा किया है
The Hindi Post

लंदन | इंडियन प्रीमियर लीग को सफलतापूर्वक लॉन्च कर भारतीय क्रिकेट को अरबों डॉलर का उद्योग बनाने वाले ललित मोदी ने बॉलीवुड अभिनेत्री और पूर्व मिस यूनिवर्स सुष्मिता सेन के साथ अपनी दोस्ती के लिए उन्हें ट्रोल करने वालों की आलोचना की है और उन्हें जवाब दिया है.

56 वर्षीय ललित मोदी ने हाल ही में सुष्मिता सेन के साथ सोशल मीडिया पर कई तस्वीरें पोस्ट की थी और लिखा था, “लंदन में परिवार के साथ समय बिताते हुए. मेरी बेटरहाफ के साथ एक नई शुरूआत.”

जल्द ही बॉलीवुड अभिनेत्री को डेट करने के लिए ललित मोदी को ट्रोल किया जाने लगा. रविवार को उन्होंने इंस्टाग्राम पर एक लंबा संदेश पोस्ट किया जिसमें उन्होंने उनको निशाना बनाने वालों से कहा कि उन्हें अकेला छोड़ दें.

इस तस्वीर को ललित मोदी ने ट्वीट किया है
इस तस्वीर को ललित मोदी ने ट्वीट किया है

मोदी ने इंस्टाग्राम पर लिखा, “मीडिया मुझे ट्रोल करने के लिए इतना जुनूनी क्यों है. क्या कोई समझा सकता – मैंने इंस्टा पर केवल 2 तस्वीरें पोस्ट की और सही टैग किया. मुझे लगता है कि हम अभी भी मध्य युग में जी रहे हैं कि 2 लोग दोस्त नहीं हो सकते और अगर केमिस्ट्री सही है और समय अच्छा है तो तो क्या पता जादू हो जाए.”

मेरी सलाह है, जियो और दूसरों को जीने दो। सही खबर लिखें न कि झूठी खबर फैला दें. मैं आपको एक बात और बता दूं कि मेरी पत्नी दिवंगत मीनल मोदी मेरी बहुत अच्छी दोस्त थीं. वह मेरी मां की दोस्त नहीं थी.”

इस तस्वीर को ललित मोदी ने ट्वीट किया है
इस तस्वीर को ललित मोदी ने ट्वीट किया है

साथ ही उन्होंने मीडिया संस्थानों से यह भी गुजारिश की कि उन्हें भगौड़ा कहना बंद करें। उन्होंने कहा कि वह कोई भगोड़े नहीं हैं. कोर्ट ने मुझे दोषी करार नहीं दिया है.

ललित मोदी ने कहा कि जब वह बीसीसीआई में पदाधिकारी बने, तो बीसीसीआई के पास केवल 40 करोड़ रुपये थे, जो 2013 में बढ़कर 47,680 करोड़ रुपये हो गए.

उन्होंने आगे कहा, “इट्स टाइम यू वेक अप – जब मैंने बीसीसीआई ज्वाइन की तो बैंक में सिर्फ 40 करोड़ रुपये थे. मैंने 29 नवंबर 2005 को अपने जन्मदिन पर बीसीसीआई ज्वाइन की थी. अनुमान लगाइए कि बैंक में क्या था जब मुझे प्रतिबंधित किया गया था — 47,680 करोड़? तब क्या किसी ने मदद की थी. एक ने भी नहीं. किसी को कोई आईडिया नहीं था कि कहा से शुरू करना है. धिक्कार है नकली मीडिया पर. अब वो ऐसे प्रदर्शन कर रहे है जैसे हीरो हो…”

Lalit Modi and Sushmita Sen

आईएएनएस


The Hindi Post