हिंदी बोलने वाले पानीपुरी बेच रहे हैं : तमिलनाडु के मंत्री

0
155
तमिलनाडु के उच्च शिक्षा मंत्री के. पोनमुडी (फोटो: ट्विटर)
The Hindi Post

चेन्नई | तमिलनाडु के उच्च शिक्षा मंत्री के. पोनमुडी ने शुक्रवार को उस वक्त एक नए विवाद को जन्म दे दिया जब उन्होंने कहा कि अंग्रेजी भाषा हिंदी की तुलना में ज्यादा अच्छी है और हिंदी बोलने वाले या तो पानी पुरी बेच रहे हैं या छोटा मोटा काम कर रहे हैं।

भारथियार विश्वविद्यालय में एक दीक्षांत समारोह में अपने संबोधन में उन्होंने पूछा कि जब तमिलनाडु में अंतरराष्ट्रीय भाषा अंग्रेजी पढ़ाई जा रही है तो हिंदी क्यों सीखनी चाहिए। समारोह में राज्यपाल आर.एन. रवि भी मौजूद थे।

विज्ञापन
विज्ञापन

उन्होंने यह भी कहा कि तमिल छात्र कोई भी भाषा सीख सकते हैं और हिंदी एक वैकल्पिक भाषा होनी चाहिए न कि अनिवार्य।

मंत्री ने कहा: वे कहते हैं कि यदि आप हिंदी सीखते हैं, तो आपको नौकरी मिलेगी? क्या ऐसा है? आप कोयंबटूर में देख सकते हैं। पानीपुरी कौन बेच रहा है? अंग्रेजी अंतरराष्ट्रीय भाषा है, हिंदी नहीं।

पोनमुडी ने वादा किया कि राष्ट्रीय शिक्षा नीति 2020 के उन पहलुओं को लागू किया जाएगा जो फायदेमंद हैं। लेकिन कहा कि राज्य सरकार केवल दो-भाषा प्रणाली लागू करेगी।

आईएएनएस

हिंदी पोस्ट अब टेलीग्राम (Telegram) और व्हाट्सप्प (WhatsApp) पर है, क्लिक करके ज्वाइन करे


The Hindi Post