100वें टेस्ट में दोहरा शतक लगाने वाले पहले बल्लेबाज बने रूट

0
380
𝑷𝒊𝒄 𝑪𝒓𝒆𝒅𝒊𝒕:𝑻𝒘𝒊𝒕𝒕𝒆𝒓/𝗕𝗖𝗖𝗜
The Hindi Post

चेन्नई | इंग्लैंड के कप्तान जोए रूट अपने 100वें टेस्ट में दोहरा शतक लगाने वाले पहले क्रिकेटर बन गए हैं। रूट ने यहां एमए चिदंबरम स्टेडियम में भारत के साथ जारी पहले टेस्ट मैच के दूसरे शनिवार को यह उपलब्धि हासिल की। इससे पहले, अपने 100वें टेस्ट में बेस्ट स्कोर का रिकॉर्ड पाकिस्तान के इंजमाम उल हक के नाम था, जिन्होंने भारत के खिलाफ ही 2005 में बेंगुलरू में 184 रनों की पारी खेली थी।

रूट ने आफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन की गेंद पर छक्का लगाकर टेस्ट करियर में अपना पांचवां दोहरा शतक लगाया।

इसके साथ ही रूट टेस्ट में सर्वाधिक दोहरे शतक लगाने वाले संयुक्त रूप से इंग्लैंड के दूसरे बल्लेबाज बन गए हैं। पूर्व कप्तान एलेस्टेयर कुक के नाम भी पांच दोहरा शतक है। वहीं, वेली हामंड के नाम सात शतक दोहरा शतक है।

 

विज्ञापन
विज्ञापन

रूट ने मैच के पहले दिन शतक जमाया था और वह अपने 100वें टेस्ट में शतक लगाने वाले नौवें बल्लेबाज बने थे।

रूट ने रविचंद्रन अश्विन की गेंद पर सिंगल लेकर अपना शतक पूरा किया। उन्होंने 164 गेंदों पर 12 चौकों की मदद से अपना शतक पूरा किया।

रूट से पहले कॉलिन कौड्रे, जावेद मियांदाद, गॉर्डन ग्रीनिज, एलेक स्टीवर्ट, इंजमाम-उल-हक, रिकी पोंटिंग (दोनों पारियों में शतक), ग्रीम स्मिथ और हाशिम अमला अपने 100वें टेस्ट मैच में शतक लगा चुके हैं। पोंटिंग ने 2006 में दक्षिण अफ्रीका के खिलाफ अपनी दोनों पारियों में शतक जमाया था।

 

विज्ञापन
विज्ञापन

रूट साथ ही पहले ऐसे क्रिकेटर बन गए हैं, जिन्होंने अपने 98वें, 99वें और 100वें टेस्ट मैचों में शतक जमाया है। रूट के टेस्ट करियर का यह अब तक का 20वां और इस साल तीसरा शतक है। उन्होंने इससे पहले दो शतक श्रीलंका दौरे पर लगाया था।

रूट साथ ही तीसरे ऐसे क्रिकेटर्स बन गए हैं, जिन्होंने अपना पहला और 100वां टेस्ट एक ही देश के खिलाफ खेला है। रूट ने भारत के खिलाफ ही 2012 में नागपुर टेस्ट में पदार्पण किया था।

रूट से पहले वेस्टइंडीज के कार्ल हूपर और भारत के कपिल देव भी अपना पहला और 100वां टेस्ट एक ही देश के खिलाफ खेल चुके हैं।

-आईएएनएस

हिंदी पोस्ट अब टेलीग्राम (Telegram) और व्हाट्सप्प (WhatsApp) पर है, क्लिक करके ज्वाइन करे


The Hindi Post