देश में मंकीपॉक्स से पहली मौत, 22 साल का था युवक

0
136
The Hindi Post

मंकीपॉक्स (Monkeypox) से मौत का पहला मामला देश के सामने आ गया है। केरल के 22 वर्षीय युवक की मृत्यु मंकीपॉक्स से हुई है। इसकी पुष्टि नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ वायरोलॉजी, पुणे (National Institute of Virology) ने कर दी है।

यह युवक 22 जुलाई को यूएई (UAE) se केरल के त्रिसूर (Trissur) लौटा था। केरल के स्वास्थ्य विभाग ने पुष्टि की है कि युवक की मौत मंकीपॉक्स बीमारी से हुई है। जांच के लिए सैंपल्स को पुणे की नेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ वायरोलॉजी भेजा गया था। सोमावर को पुणे से आई रिपोर्ट में इस बात का उल्लेख है कि युवक मंकीपॉक्स से संक्रमित था।

युवक की रविवार को मृत्यु हो गई थी। इसके बाद, स्वास्थ्य विभाग ने युवक के संपर्क में आए लोगों की एक विस्तृत सूची बनानी शुरू कर दी थी।

Azadi-Ka-Amrit-Mahotsava

यह जानकारी में आया है कि युवक के चार दोस्त और परिवार के लोग उसको कोझिकोड एयरपोर्ट  (Kozhikode airport) पर लेने आए थे। युवक यूएई से लौटा था।

अगले दिन वो अपने दोस्तों के संग फुटबॉल खेलते समय गिर गया था। यह बात 27 जुलाई की है। इसके बाद उसको तुरंत अस्पताल ने भर्ती करवाया गया था। यहां उसका इलाज जारी था पर रविवार को उसकी मौत हो गई।

अब स्वास्थ्य विभाग हर उस व्यक्ति का पता लगाने की कोशिश कर रहा है जो इस युवक के संपर्क में आया था।

भारत में मंकीपॉक्स के अब तक 4 पुष्ट मामले सामने आ चुके है। इसके 16,000 से ज्यादा मामले विश्वभर में दर्ज किए जा चुके है। विश्व स्वास्थ्य संगठन के अनुसार, मंकीपॉक्स के मामले 75 से ज्यादा देशों में दर्ज किए गए है और यह तेजी से फैल रहा है।

 

 हिंदी पोस्ट वेब डेस्क
(इनपुट्स: आईएएनएस)


The Hindi Post