मुख्यमंत्री पद से इस्तीफा क्यों नहीं दे रहे अरविंद केजरीवाल, खुद उन्होंने इसके बारे में बताया

फोटो क्रेडिट: X/AAP

The Hindi Post

दिल्ली के मुख्यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने शनिवार को बताया कि उन्होंने CM पद से इस्तीफा क्यों नहीं दिया. उन्होंने कहा जब मैं जेल में था तब कुछ लोगों ने यह मुद्दा उठाया कि केजरीवाल CM पद से इस्तीफा क्यों नहीं देता.

उन्होंने कहा, “केजरीवाल को कभी किसी पद का लालच नहीं हुआ. मैं यहां मंत्री, मुख्यमंत्री या  प्रधानमंत्री बनने नहीं आया. इनकम टैक्स में कमिश्नर की नौकरी करता था. कमिश्नर की नौकरी  छोड़कर दिल्ली की झुग्गियों के अंदर दस साल तक काम किया.”

अरविंद केजरीवाल ने कहा कि जब जनता ने मुझको पहली बार मुख्यमंत्री बनाया तो उसूलों के ऊपर 49 दिनों के अंदर CM पद से इस्तीफा दे दिया था. “एक चपरासी की नौकरी कोई नहीं छोड़ता, CM बनने के लिए लोग अपना दाया (दाहिना) हाथ कटवाने को तैयार होते हैं, मैंने खुद से CM की कुर्सी को लात मार दी थी. मेरे लिए CM पद महत्वपूर्ण नहीं है. आज मैंने जेल जाने के बाद भी CM पद से इस्तीफा क्यों नहीं दिया क्योंकि पिछले 75 साल से भारत में दिल्ली के अंदर सबसे ऐतिहासिक बहुमत से आम आदमी पार्टी जीती. इतने भारी बहुमत से किसी भी राज्य की सरकार नहीं बनी.”

केजरीवाल ने आगे कहा कि उनको (बीजेपी) पता है कि वो हमें दिल्ली के अंदर हरा नहीं सकते, इसलिए उन्होंने इतना भारी बहुमत से जीतने के बावजूद झूठा षडयंत्र रचा कि केजरीवाल को इस्तीफा देना पड़ेगा और सरकार गिर जाएगी. मैंने कहा मैं इस्तीफा नहीं दूंगा. तुम अगर जनतंत्र को जेल में कैद करोगे, तो सरकार जेल से चलाकर दिखाएंगे, तुम्हारे ट्रैप (जाल) में फंसने वाले नहीं हैं.

Hindi Post Web Desk

 


The Hindi Post
error: Content is protected !!