अमेरिका ने ड्रोन हमले में अलकायदा के शीर्ष नेता अल जवाहिरी को मार गिराया

0
140
The Hindi Post

वाशिंगटन | अमेरिकी राष्ट्रपति जो बाइडेन (Joe Biden) ने अफगानिस्तान में ड्रोन हमले में अल-कायदा के शीर्ष नेता अयमान अल-जवाहिरी (Ayman al-Zawahiri) को मार गिराया है. अल-जवाहिरी अफगानिस्तान में छिपा हुआ था.

अमेरिका ने कहा कि अल-जवाहिरी 9 / 11 की साजिश में शामिल था. इस हमले में 2,977 लोग मारे गए थे. साल 2011 में अमेरिका ने ओसामा बिन-लादेन (Osama Bin Laden) को मार गिराया था. ओसामा पाकिस्तान में छिपा हुआ था.

अल-जवाहिरी का जन्म मिस्र (Egypt) में हुआ था. वो पेशे से डॉक्टर था. उस पर 2.5 करोड़ अमेरिकी डॉलर का इनाम था। अमेरिका ने उसे 1998 में केन्या और तंजानिया में अपने दूतावासों और 2000 में अपने नौसैनिक जहाज यूएसएस कोल (USS Cole) पर बमबारी के लिए भी जिम्मेदार ठहराया है.

उसका भारत को डराने-धमकाने का भी एक लंबा इतिहास रहा है. अप्रैल में उसने एक भारतीय छात्रा मुस्कान खान की प्रशंसा की थी जिसने मुस्लिम महिलाओं को हिजाब पहनने से रोकने के प्रयासों के खिलाफ आवाज उठाई थी. अल-जवाहिरी ने कश्मीर से अनुच्छेद 370 निरस्त किए जाने का भी विरोध किया था.

अल-जवाहिरी को सीआईए (CIA) द्वारा संचालित ड्रोन से दो हेलफायर मिसाइलों (Hellfire Missiles) द्वारा मार दिया गया. यह उस समय हुआ जब वह काबुल में एक घर की बालकनी में खड़ा था. यहां वो अपने परिवार के साथ रह रहा था. पत्रकारों को जानकारी देने वाले अमेरिकी अधिकारियों के अनुसार, हमले में उसके परिवार का कोई सदस्य या अन्य नागरिक घायल या मारा नहीं गया है.

राष्ट्रपति जो बाइडेन ने राष्ट्र के नाम एक संबोधन में कहा कि अमेरिकी खुफिया ने वर्ष की शुरुआत में अल-कायदा नेता को अफगानिस्तान में ट्रैक किया था और उन्होंने एक सप्ताह पहले 25 जुलाई को अल-जवाहिरी को मारने के लिए ऑपरेशन को आगे बढ़ाया था.

आईएएनएस

हिंदी पोस्ट अब टेलीग्राम (Telegram) और व्हाट्सप्प (WhatsApp) पर है, क्लिक करके ज्वाइन करे


The Hindi Post