यूपी बोर्ड परीक्षा अगले आदेश तक टली, 15 मई तक 12 वीं तक के स्कूल बंद

0
222
The Hindi Post

लखनऊ | कोरोना वायरस संक्रमण के बेहद भयावह रूप लेने के कारण सीबीएसई (CBSE) के बाद अब उत्तर प्रदेश माध्यमिक शिक्षा परिषद यानी यूपी बोर्ड की परीक्षाएं टाल दी गई हैं। अगले आदेश तक इन्हें स्थगित कर दिया गया है साथ ही 15 मई तक 12वीं तक के स्कूल-कॉलेज बंद रखने का निर्णय लिया गया है।

मुख्यमंत्री कार्यालय से ट्वीट के माध्यम से मिली जानकारी के अनुसार कोविड संक्रमण के दृष्टिगत  कक्षा 1 से 12वीं तक के विद्यालयों में 15 मई तक पठन-पाठन स्थगित रखा जाए। इस अवधि में कोई परीक्षा आयोजित नहीं की जाएगी। माध्यमिक शिक्षा परिषद की 10वीं और 12वीं की परीक्षाएं 20 मई के बाद आयोजित की जाएं।

विज्ञापन
विज्ञापन

इससे पहले बुधवार को उप मुख्यमंत्री डॉ. दिनेश शर्मा ने कहा था कि, “यूपी बोर्ड की तारीखों पर जल्द ही निर्णय लिया जाएगा। उन्होंने कहा कि कोरोना की स्थिति का आकलन समय-समय पर किया जा रहा है। हमारे 19 अधिकारी जो बोर्ड परीक्षाओं से संबंधित हैं, इनमें से 17 अधिकारी संक्रमित हैं। यह स्थिति चिंताजनक है।”

हाईस्कूल एवं इंटरमीडिएट की परीक्षाएं पहले 8 मई से शुरू होनी थीं। 10वीं की परीक्षा 25 मई को समाप्त होनी थी जबकि 12वीं की परीक्षा 28 मई को समाप्त होनी थी। लेकिन अब बोर्ड हालात की समीक्षा करने के बाद नया टाइम टेबल जारी करेगा।

ज्ञात हो कि यूपी बोर्ड परीक्षा के लिए इस बार 56 लाख से अधिक छात्र-छात्राओं ने अपना पंजीकरण कराया है। कोरोना संक्रमण के कारण परीक्षा टलने का एक बड़ा कारण माध्यमिक शिक्षा विभाग के शीर्ष अधिकारियों का भी कोरोना संक्रमित होना माना जा रहा है।

विज्ञापन
विज्ञापन

राज्य की अपर मुख्य सचिव माध्यमिक शिक्षा अराधना शुक्ला के साथ ही उत्तर प्रदेश बोर्ड के शीर्ष 19 में से 17 अधिकारी कोरोना संक्रमित हैं। बोर्ड परीक्षा की तैयारियों में लगे 19 में से 17 अधिकारी कोरोना संक्रमित होने के कारण निर्णय अधर में था। अपर मुख्य सचिव आराधना शुक्ला के अलावा तीन विशेष सचिव, निदेशक व पांच उप निदेशक स्तर के अधिकारी कोरोना की चपेट में हैं। डिप्टी सीएम शर्मा ने कहा कि इन सभी अधिकारियों के स्वस्थ होते ही बैठक होगी, जिसमें यूपी बोर्ड 10वीं व 12वीं की परीक्षाओं के बारे में आगे का निर्णय लिया जाएगा।

उत्तर प्रदेश में कोरोना से हालात बेकाबू हो गए हैं। हर रोज संक्रमितों का नया रिकॉर्ड बन रहा है। प्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ से लेकर प्रमुख विपक्षी दल के नेता अखिलेश यादव तक कोरोना पॉजिटिव होकर खुद को आइसोलेट कर चुके हैं। प्रदेश में बुधवार को कोरोना संक्रमण के 20,510 नए मामले पाए गए हैं।

आईएएनएस

हिंदी पोस्ट अब टेलीग्राम (Telegram) और व्हाट्सप्प (WhatsApp) पर है, क्लिक करके ज्वाइन करे


The Hindi Post