डोनाल्ड ट्रंप को पूजने वाले प्रशंसक की तेलंगाना में दिल के दौरे से मौत

0
428
फोटो क्रेडिट: आईएएनएस
The Hindi Post

हैदराबाद | अमेरिकी राष्ट्रपति डोनाल्ड ट्रंप के प्रशंसक और उन्हें भगवान की तरह पूजने वाले बुसा कृष्णा (38) की रविवार को दिल का दौरा पड़ने से मौत हो गई। वह ट्रंप के कोरोना संक्रमित होने और उसके बाद की उनकी स्वास्थ्य स्थिति को लेकर खासे चिंतित थे। तेलंगाना के मेडक जिले के तूप्रान इलाके में बुसा कृष्णा अपने रिश्तेदार के घर पर चाय पी रहे थे, तभी बेहोश हो गए। उन्हें अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने उन्हें मृत घोषित कर दिया।

उनके परिवार के सदस्यों ने कहा कि वह यह जानकर चिंतित थे कि ट्रंप को कोविड-19 संक्रमण हो गया है। कथित तौर पर जब से उन्हें ट्रंप के बीमार होने के बारे में पता चला था, उन्होंने ठीक से भोजन भी नहीं किया था।

बुसा कृष्णा ट्रंप और उनकी पत्नी के ठीक होने के लिए भगवान से प्रार्थना कर रहे थे।

जनगांव जिले के कोन्ने गांव के निवासी कृष्णा ट्रंप के भक्त थे। उन्होंने 1.30 लाख रुपये खर्च करके अपने घर पर अमेरिकी राष्ट्रपति की छह फीट की मूर्ति भी स्थापित की थी।

वह ट्रंप के लिए रोज प्रार्थना करते थे और उनके गांव में उन्हें ‘ट्रंप कृष्णा’ के रूप में जाना जाता था। एक छोटे किसान कृष्णा ने कहा था कि वह ट्रंप के अमेरिकी राष्ट्रपति बनने के बाद से कई मुद्दों को लेकर उनके बहुत बड़े प्रशंसक बन गए थे।

उन्होंने बताया था कि लोगों ने ट्रंप की प्रतिमा स्थापित करने और इसकी पूजा करने को लेकर उनका खासा मजाक उड़ाया और उन्हें मनोचिकित्सक से मिलने तक की सलाह दी थी। फिर भी ट्रंप के प्रति उनका प्यार कम नहीं हुआ।

उन्होंने कहा था, “मैं हर शुक्रवार को ट्रंप के लंबे जीवन के लिए उपवास करता हूं। मैं हमेशा अपने साथ उनकी तस्वीर रखता हूं और किसी भी काम को शुरू करने से पहले उनसे प्रार्थना करता हूं।”

स्कूली पढ़ाई अधूरी छोड़ने वाले कृष्णा की वैश्विक राजनीति में गहरी दिलचस्पी थी। उनकी इच्छा थी, ट्रंप फिर से चुनाव जीतें और चीन से निपटें।

इस साल की शुरुआत में जब ट्रंप भारत आए थे तो कृष्णा ने केंद्र सरकार से अपील की थी कि वह अमेरिकी नेता से उन्हें मिलवाने की व्यवस्था करें। हालांकि, उनकी अपने ‘भगवान’ से मिलने की इच्छा अधूरी ही रह गई।

आईएएनएस


The Hindi Post