बिना व्यापारियों से सलाह-मशवरा किये लॉकडाउन जैसा कोई कदम न उठाए सरकारे: कैट

0
344
कैट के राष्ट्रीय महामंत्री प्रवीण खंडेलवाल (फाइल फोटो/आईएएनएस)
The Hindi Post

नई दिल्ली | देश भर में तेजी से कोविड के मामलों में एक बार फिर बढ़ोतरी हो रही है और ओमिक्रॉन का संभावित प्रकोप होने की आशंका के चलते कनफेडरेशन ऑफ ऑल इंडिया ट्रेडर्ज (कैट) ने दिल्ली सहित देश भर के व्यापारिक संगठनों को एक एडवाइजरी जारी की है। एडवाइजरी में व्यापारिक संगठनों से आग्रह किया गया है कि, वो अपने-अपने बाजारों में कोविड सुरक्षा के नियमों का पालन करने के लिए स़ख्त कदम उठाएं और प्रयास करें कि सभी बाजारों में भीड़ को कम किया जाए।

कैट ने व्यापारी संगठनों को जारी अपील में कहा है, जिस प्रकार से केंद्र सरकार ने इस सम्बंध में राज्य सरकारों को दिशा निर्देश दिए हैं तथा विभिन्न राज्य सरकारों ने इस सम्बंध में कदम उठाए हैं, उसको देखते हुए व्यापारी संगठनों को आगे आकर न केवल अपनी सुरक्षा बल्कि अपने कर्मचारियों तथा ग्राहकों की सुरक्षा पर भी ध्यान देने से कोविड की रोकथाम के प्रयासों को एक बड़ा सहयोग मिलेगा।

विज्ञापन
विज्ञापन

कैट के राष्ट्रीय महामंत्री प्रवीन खंडेलवाल ने जोर देकर केंद्र एवं देश के विभिन्न राज्यों की सरकारों से कहा है कि, लॉक डाउन जैसा कोई भी कदम न उठाया जाए, इससे देश के व्यापार और आर्थिक गतिविधियों को बड़ा नुकसान होगा। वहीं यदि लॉकडाउन लगाना जरूरी हो तो कोई भी निर्णय लेने से पहले व्यापारियों से सलाह मशवरा जरूर किया जाए।

बाजार की सभी दुकानों में स्पष्ट रूप से नो मास्क नो सेल लिखा हुआ एक साइन बोर्ड प्रदर्शित होना चाहिए। सभी दुकानों में सैनिटाइजर रखा जाए और ग्राहक व कर्मचारी अपने हाथों को नियमित रूप से सैनिटाइज करते रहें, सभी कर्मचारियों को हर समय मास्क पहनना होगा। डिजिटल भुगतान को बढ़ावा दिया जाना चाहिए और नकदी के उपयोग को प्रतिबंधित किया जाना चाहिए क्योंकि वायरस मुद्रा नोटों के माध्यम से भी फैलता है।

विज्ञापन
विज्ञापन

आईएएनएस

हिंदी पोस्ट अब टेलीग्राम (Telegram) और व्हाट्सप्प (WhatsApp) पर है, क्लिक करके ज्वाइन करे


The Hindi Post