शिंजो आबे – जापान के सबसे लंबे समय तक सेवा करने वाले प्रधानमंत्री

0
205
The Hindi Post

टोक्यो | जापान के सबसे लंबे समय तक प्रधानमंत्री रहने वाले शिंजो आबे (Shinzo Abe) के बारे में हम कुछ जानकारी इकट्ठा कर के लाए हैं.

समाचार एजेंसी सिन्हुआ (Xinhua) की रिपोर्ट के अनुसार, आबे का जन्म 1954 में हुआ था और उन्होंने 1977 में सेइकी विश्वविद्यालय (Seikei University) से स्नातक की उपाधि प्राप्त की थी. उन्होंने 1979 में जापान के प्रमुख इस्पात निर्माता कोबे स्टील (Kobe Steel) में काम किया था.

1982 में, आबे ने विदेश मामलों के मंत्री के सहायक के रूप में कार्य किया. 1993 से से लेकर अब तक हाउस ऑफ रेप्रेसेंटेटिवेस के लिए चुने जाते रहे.

उन्होंने एक बार एलडीपी के सामाजिक मामलों के विभाग के निदेशक, उप मुख्य कैबिनेट सचिव, एलडीपी के महासचिव और मुख्य कैबिनेट सचिव के रूप में भी कार्य किया.

आबे 2006 से 2007 तक और फिर 2012 से 2020 तक जापान के प्रधानमंत्री रहे.

v

प्रधानमंत्री के रूप में अपने पहले कार्यकाल के दौरान, आबे ने 2007 में एक आंतों की बीमारी, क्रोनिक अल्सरेटिव कोलाइटिस (chronic ulcerative colitis) के कारण अचानक अपने पद से इस्तीफा दे दिया था.

2012 में निचले सदन के चुनाव में शानदार जीत हासिल करने के बाद, वह देश के प्रधानमंत्री के रूप में सेवा करने के लिए लौट आए.

वह सितंबर 2018 में एलडीपी के फिर से अध्यक्ष चुने गए.

24 अगस्त, 2020 को, आबे कार्यालय में लगातार दिनों की संख्या के हिसाब से जापान के सबसे लंबे समय तक प्रधानमंत्री बने.

उन्होंने 28 अगस्त, 2020 को घोषणा की कि वह स्वास्थ्य संबंधी समस्याओं के कारण अपने पद से हट जाएंगे.

आईएएनएस

हिंदी पोस्ट अब टेलीग्राम (Telegram) और व्हाट्सप्प (WhatsApp) पर है, क्लिक करके ज्वाइन करे


The Hindi Post