डिप्टी एसपी को बनाया गया सिपाही … हुआ डिमोशन.. महिला के साथ मिले थे होटल में

The Hindi Post

उत्तर प्रदेश पुलिस ने डिप्टी SP को डिमोट करके सिपाही बना दी दिया है. कृपा शंकर कन्नौजिया  को 26वीं वाहिनी पीएसी गोरखपुर में F दल में आरक्षी पद पर तैनात किया गया है. वह उन्नाव में CO (सर्किल अफसर) बीघापुर रह चुके है.

एक आदेश के अनुसार, कृपा शंकर को प्रांतीय सशस्त्र बल (पीएसी) गोरखपुर बटालियन में कांस्टेबल के पद पर तैनात किया गया है.

6 जुलाई, 2021 को तत्कालीन सर्किल ऑफिसर (सीओ) कृपा शंकर कन्नौजिया ने पारिवारिक कारणों के चलते उन्नाव पुलिस अधीक्षक (एसपी) से छुट्टी मांगी थी. छुट्टी मंजूर होने के बाद वह घर नहीं गए. बताया जा रहा है कि उन्होंने कानपुर के एक होटल में चेक-इन किया था. उनके साथ कथित तौर पर महिला सिपाही भी थी. उन्होंने अपना प्राइवेट और आधिकारिक नंबर स्विच ऑफ कर लिया था.

फोन नहीं मिलने पर कृपा शंकर की पत्नी ने उन्नाव एसपी से मदद मांगी थी. तब उनको पता चला था कि वह छुट्टी लेकर घर गए है. इसके बाद पुलिस ने उनके बारे में पता लगाने की कोशिश की. पता चला कि कानपुर में उनका फोन नंबर एक्टिव था और उसके बाद स्विच ऑफ हो गया था.

पुलिस की एक टीम उस होटल पहुंची थी जहां कृपा शंकर ठहरे थे. यहां कृपा शंकर और महिला सिपाही दोनों मिल गए थे.

बताया जा रहा है कि सबूत के तौर पर उन्नाव पुलिस सीओ से जुड़े वीडियो अपने साथ ले आई थी. होटल में एंट्री करते समय सीओ और उनकी महिला मित्र सीसीटीवी कैमरे में कैद हुए थे.

बाद में लखनऊ रेंज के तत्कालीन पुलिस महानिरीक्षक (आईजीपी) ने कृपा शंकर के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की सिफारिश की थी.

पूरे मामले पर समीक्षा के बाद कृपा शंकर कनौजिया को रिवर्ट कर फिर से सिपाही बनाने की सिफारिश की गई जिसके बाद एडीजी प्रशासन ने CO को सिपाही बनाने का आदेश जारी कर दिया.

हिंदी पोस्ट वेब डेस्क
(इनपुट्स: आईएएनएस)

 


The Hindi Post
error: Content is protected !!