लॉकडाउन में ढील देने को लेकर 57 प्रतिशत भारतीय हैं नाखुश : सर्वे

प्रतीकात्मक इमेज

The Hindi Post

नई दिल्ली | भारत में लगभग 60 प्रतिशत लोग राष्ट्रव्यापी तालाबंदी के चौथे चरण में सरकार द्वारा दी गई ढील से खुश नहीं हैं। हाल ही में किए गए एक सर्वेक्षण में इस बात का खुलासा हुआ है।

यह सर्वेक्षण करीब ढाई लाख लोगों पर देसी सोशल एप ‘पब्लिक’ की मदद से किया गया। इनमें से 86 प्रतिशत लोगों ने यह तक कहा कि लॉकडाउन के तीसरे चरण के पूरा होने के बाद भी वह खाने-पीने, लोगों से मिलने या घूमने वगैरह के लिए बाहर नहीं गए हैं और न ही जा रहे हैं।

इस सर्वेक्षण में तीन सौ से अधिक जिलों को शामिल किया गया, जिसमें लोगों ने इस विषय पर अपनी बात रखी कि लॉकडाउन के बढ़ने व इसमें ढील दिए जाने के साथ वे किस तरह से सामंजस्य बिठा रहे हैं।

राष्ट्रव्यापी तालाबंदी के चौथे चरण में प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी द्वारा कुछ हद तक राहत दिए जाने के साथ महज 13.2 प्रतिशत लोगों ने ही दावा किया कि वे घूमने, खाना खाने और परिजनों व मित्रों से मिलने के लिए बाहर जा रहे हैं, जबकि 49 प्रतिशत लोगों में अब भी इस बात का डर है कि भारत में स्थिति अब भी नियंत्रण में नहीं है।

हर रोज कोरोनावायरस के बढ़ते मामलों की संख्या को देखते हुए 11 प्रतिशत लोगों ने अनुमान लगाया है कि आने वाले समय में कोविड-19 के सक्रिय मामलों की संख्या पांच लाख से अधिक हो जाएगी।

आईएएनएस


The Hindi Post

You may have missed

error: Content is protected !!