सपा ने यूपी विधानसभा सत्र के दौरान मीडिया की गैरमौजूदगी पर सवाल उठाए

0
118
𝐏𝐢𝐜 𝐂𝐫𝐞𝐝𝐢𝐭:𝐈𝐀𝐍𝐒
The Hindi Post

लखनऊ | उत्तर प्रदेश विधानसभा में विपक्ष के नेता राम गोविंद चौधरी ने राज्य विधानसभा सत्र की कार्यवाही के मीडिया कवरेज पर प्रतिबंध लगाने पर सवाल उठाया है। पत्रकारों से बात करते हुए उन्होंने कहा, “प्रेस गैलरी से प्रेस अनुपस्थित क्यों है? क्या कोविड-19 सिर्फ पत्रकारों को संक्रमित कर रहा है? क्या यह विधायकों, मंत्रियों, मुख्यमंत्री, स्पीकर और अन्य को संक्रमित नहीं करता है?”

महामारी के कारण बजट सत्र में मीडिया को कवरेज की अनुमति नहीं दी गई है।

चौधरी ने आगे कहा कि राज्यपाल ने अपने संबोधन में किसानों के आंदोलन और लगभग 200 किसानों की मौत के बारे में एक शब्द नहीं बोला। उन्होंने पूछा, “क्या इससे ज्यादा कुछ और असंवेदनशील हो सकता है?”

 

विज्ञापन
विज्ञापन

कांग्रेस विधायक दल की नेता आराधना मिश्रा ने कहा, “सरकार को विरोध प्रदर्शन के दौरान मरने वाले 200 से अधिक किसानों के प्रति सहानुभूति व्यक्त करनी चाहिए थी। मरने वाले ज्यादातर किसान यूपी के हैं। सरकार ने किसानों के प्रति कोई सहानुभूति व्यक्त नहीं की। हम तीनों काले कृषि कानूनों का विरोध करते हैं। उन्नाव की घटना भी एक बड़ी घटना है और हम इसमें न्यायिक जांच की मांग करते हैं।”

-आईएएनएस

हिंदी पोस्ट अब टेलीग्राम (Telegram) और व्हाट्सप्प (WhatsApp) पर है, क्लिक करके ज्वाइन करे


The Hindi Post