अपने लोगों को कम चाय पीने के लिए क्यों कह रहा है पाकिस्तान?

0
211
सांकेतिक तस्वीर (पिक्साबे)
The Hindi Post

इस्लामाबाद | पाकिस्तान में लोगों से कम चाय पीने का आग्रह किया जा रहा है. ऐसा इसलिए कहा जा रहा है ताकि देश की अर्थव्यवस्था को बचाए रखा जा सके. बीबीसी की रिपोर्ट के अनुसार, योजना के संघीय मंत्री अहसान इकबाल ने कहा कि एक दिन में कम चाय पीने से पाकिस्तान के उच्च आयात बिलों में कटौती हो सकेगी.

पाकिस्तान दुनिया का सबसे बड़ा चाय आयातक देश है जिसने पिछले साल 600 मिलियन डॉलर से अधिक मूल्य की चाय खरीदी थी.

पाकिस्तानी मीडिया के अनुसार, इकबाल ने कहा, “मैं देश से चाय की खपत में एक से दो कप की कटौती करने की अपील करता हूं, क्योंकि हम कर्ज पर चाय का आयात करते हैं.”

उन्होंने सुझाव दिया कि व्यापारी वर्ग भी बिजली बचाने के लिए 20:30 बजे अपने बाजार के स्टालों को बंद कर सकते हैं.

बीबीसी की रिपोर्ट के अनुसार, पाकिस्तान के विदेशी मुद्रा भंडार में तेजी से गिरावट जारी है. पाकिस्तान सरकार उच्च आयात लागत में कटौती करना चाहती है. ऐसा करके वो देश में धन रखना चाहता है. पाकिस्तान नहीं चाहता कि उसका आयात बिल बढे.

पाकिस्तान का विदेशी मुद्रा भंडार फरवरी में लगभग 16 अरब डॉलर से गिरकर जून के पहले सप्ताह में 10 अरब डॉलर से भी कम हो गया जो उसके सभी आयातों के दो महीने की लागत को कवर करने के लिए मुश्किल से पर्याप्त है.

पिछले महीने, कराची में अधिकारियों ने धन को देश से बाहर जाने से रोकने के लिए, दर्जनों गैर-आवश्यक लक्जरी वस्तुओं के आयात को प्रतिबंधित कर दिया था.

आईएएनएस

हिंदी पोस्ट अब टेलीग्राम (Telegram) और व्हाट्सप्प (WhatsApp) पर है, क्लिक करके ज्वाइन करे


The Hindi Post