150 व्हाट्सएप ग्रुपों में फैले ऑनलाइन सेक्स रैकेट का भंडाफोड़, 4 गिरफ्तार

0
176
The Hindi Post

नई दिल्ली | दिल्ली पुलिस ने एक ऑनलाइन सेक्स रैकेट का भंडाफोड़ किया है, जो दिल्ली और राष्ट्रीय राजधानी क्षेत्र में 150 व्हाट्सएप ग्रुपों के माध्यम से संचालित किया गया था। गिरोह लड़कियों का अपहरण करता था और बाद में उन्हें दलाल को बेच देता था, जो लड़कियों को राजधानी के 5-सितारा होटलों में सप्लॉय करते थे। दिल्ली के मजनू का टीला से एक लड़की को इस गिरोह के चंगुल से मुक्त कराया गया और दो महिलाओं समेत दो दलालों को गिरफ्तार किया गया है।

22 जनवरी को अपहृत एक नाबालिग लड़की के अपहरण मामले में काम करते हुए, दिल्ली पुलिस ने लड़की को छुड़ाने के बाद ऑनलाइन सेक्स रैकेट का भंडाफोड़ किया। इस सिलसिले में दो महिलाओं सहित चार लोगों को गिरफ्तार किया गया है।

विज्ञापन
विज्ञापन

पश्चिम दिल्ली के राजौरी गार्डन पुलिस द्वारा जांच के दौरान यह सामने आया कि नाबालिग लड़की को ‘एस्कॉर्ट’ सप्लायर्स के एक गिरोह ने वेश्यावृत्ति में धकेल दिया था।

डीसीपी वेस्ट दिल्ली उर्विजा गोयल ने कहा, “छुड़ाई गई लड़की से पूछताछ ने एक व्यापक वेश्यावृत्ति सिंडिकेट का खुलासा किया है, जो आरोपी व्यक्तियों द्वारा कई व्हाट्सएप ग्रुपों पर चलाया जा रहा था, जहां वे उसकी तस्वीरें प्रसारित करते थे और जबरन ड्रग्स भी देते थे।”

छुड़ाई गई लड़की ने कहा कि उसे दो अज्ञात लोगों ने उस समय अगवा कर लिया, जब वह एक दुकान पर चिप्स का पैकेट खरीदने गई थी। उन्होंने उसे अपने घर पर जन्मदिन का केक खाने के लिए आमंत्रित किया।

विज्ञापन
विज्ञापन

अधिकारी ने कहा, “लड़की उनके साथ उनके निवास पर गई जहां जन्मदिन का केक खाने के बाद वह बेहोश हो गई।”

इसके बाद, वे उसे जबरन मजनू का टीला ले गए, जहां उसे उसके सहयोगियों संजय, अंशु शर्मा, सपना गोयल और कनिका रॉय को सौंप दिया गया। इन सभी को गिरफ्तार कर लिया गया है।

पुलिस यह भी जानने की कोशिश कर रही है कि रैकेट में और कितने लोग शामिल हैं।

आईएएनएस

हिंदी पोस्ट अब टेलीग्राम (Telegram) और व्हाट्सप्प (WhatsApp) पर है, क्लिक करके ज्वाइन करे


The Hindi Post