बीमा की राशि हड़पने के लिए पति ने कराई पत्नी की हत्या

0
166
प्रतीकात्मक इमेज
The Hindi Post

मेरठ (उत्तर प्रदेश) | एक शख्स ने 50 लाख की बीमा राशि हड़पने के लिए डॉक्टर के साथ मिलकर अपनी पत्नी की हत्या करा दी, जो कि पेशे से एक शिक्षिका थीं। सबसे पहले पत्नी को नींद की गोली दी गई और फिर तकिए से मुंह को दबाकर उसकी हत्या कर दी गई। घटना को अंजाम देने के बाद बॉडी को फ्रीजर में स्टोर कर दिया गया ।

डॉक्टर द्वारा तकिए से शिक्षिका के मुंह को दबाकर उनकी हत्या किए जाने की एक तस्वीर से दोनों कानून की निगाहों में आ गए। यह तस्वीर खुद उस आदमी ने खींची थी।

विज्ञापन
विज्ञापन

पुलिस के मुताबिक, यह घटना 20 फरवरी को मेरठ में हुई थी, जहां 42 वर्षीय एक व्यापारी संजय लूथरा ने 40 वर्षीय अपनी पत्नी चंदा को खत्म करने की साजिश रची थी और इस घिनौने काम को अंजाम देने में उसे रजत भारद्वाज नामक एक डॉक्टर का साथ मिला था, जिसने लूथरा से 1.35 लाख रुपये उधार लिए थे।

लूथरा ने एक शर्त रखी थी कि अगर भारद्वाज उसकी पत्नी को मार देता है, तो वह उससे उधार के पैसे वापस नहीं लेगा।

क्राइम ब्रांच के इंस्पेक्टर राम संजीवन, जिनकी टीम मामले की जांच कर रही थी, ने कहा, “हालांकि उन्हें स्थानीय नौचंदी थाने से क्लीन चिट दे मिल गई थी, लेकिन हमने जांच जारी रखी और संजय लूथरा के मोबाइल फोन को कब्जे में ले लिया और कुछ हटाई गई तस्वीरों को रिकवर किया – इनमे से एक तस्वीर में महिला के मुंह को तकिया से दबाए जा रहा है |”

विज्ञापन
विज्ञापन

पूछताछ के दौरान पता चला कि लूथरा ने ही भारद्वाज की यह तस्वीर खींची थी, लेकिन बाद में डॉक्टर के कहने पर उसने इसे डिलीट कर दिया था।

इस बीच, चंदा के परिवार को पहले से शक था कि दाल में कुछ काला है।

उनकी मां सुनीता देवी ने कहा, “संजय पिछले कुछ समय से चंदा से छुटकारा पाने की कोशिश कर रहा था और तो और इसके लिए उसने डिवोर्स का रास्ता भी चुन लिया था, लेकिन चंदा तलाक देने के लिए तैयार नहीं थी। शनिवार को रात के 11 बजे तक वह अपने किसी रिश्तेदार के यहां थी और उसी रात उसकी हत्या कर दी गई थी। हमने नौचंदी की पुलिस को समझाने का बहुत प्रयास किया, लेकिन उन्होंने कोई कार्रवाई नहीं की।”

शव की पोस्ट मार्टम रिपोर्ट में मौत की वजह स्पष्ट नहीं हुई थी।

आईएएनएस

हिंदी पोस्ट अब टेलीग्राम (Telegram) और व्हाट्सप्प (WhatsApp) पर है, क्लिक करके ज्वाइन करे


The Hindi Post