योगी सरकार ने लखनऊ और कानपुर के कमिश्नर को हटाया

0
595
The Hindi Post

लखनऊ | उत्तर प्रदेश की कानून व्यवस्था को लेकर मुख्यमंत्री योगी ने बड़ा कदम उठाया है. लखनऊ और कानपुर के पुलिस कमिश्नर को हटा दिया गया है. लखनऊ के पुलिस कमिश्नर डीके ठाकुर और कानपुर के पुलिस आयुक्त विजय सिंह वीणा को हटा दिया है. दोनों वरिष्ठ आइपीएस अधिकारियों को वेटिंग लिस्ट में रखा गया है. एसबी शिरोडकर को लखनऊ का नया पुलिस कमिश्नर बनाया गया है, जबकि बीपी जोगदंड को कानपुर के पुलिस कमिश्नर की जिम्मेदारी सौंपी गई है.

अब तक लखनऊ के पुलिस कमिश्नर रहे डीके ठाकुर को वेटिंग लिस्ट में डाला गया है. फिलहाल वह बतौर अपर पुलिस महानिदेशक (प्रतीक्षारत), पुलिस मुख्यालय लखनऊ में रहेंगे. कानपुर के पुलिस कमिश्नर विजय कुमार मीना को भी वेटिंग लिस्ट में डाला गया है. वह भी अपर पुलिस महानिदेशक (प्रतीक्षारत) के तौर पर पुलिस मुख्यालय भेजे गए हैं.

विज्ञापन
विज्ञापन

इसके अलावा सरकार ने तीन अन्य आइपीएस अफसरों को भी नई तैनाती दी गई है. होमगार्डस के पुलिस महानिदेशक विजय कुमार को पुलिस महानिदेशक सीबीसीआईडी बनाया गया है.

सीबीसीआईडी पुलिस महानिदेशक गोपाल लाल मीना कोऑपरेटिव सेल के पुलिस महानिदेशक बनाए गए हैं. पुलिस महानिदेशक लॉजिस्टक विजय कुमार मौर्य को पुलिस महानिदेशक होमगार्ड का भी जिम्मा दिया गया है. वह पुलिस महानिदेशक लॉजिस्टिक का भी काम संभालते रहेंगे.

सूत्रों की मानें तो लखनऊ के पुलिस आयुक्त डी.के. ठाकुर को ट्रैफिक मैनेजमेंट और कानून व्यवस्था में लापरवाही की सजा मिली है. वहीं, कानपुर के पुलिस कमिश्नर विजय सिंह मीणा को तीन जून को नई सड़क पर भड़की हिंसा और पुलिस विभाग में भ्रष्टाचार के बाद हटाने की बात कही जा रही है.

आईएएनएस


The Hindi Post