जिस डॉक्टर ने 16,000 से ज्यादा हार्ट सर्जरी की उनको पड़ा दिल का दौरा, 41 साल की उम्र में ली अंतिम सांस

0
607
The Hindi Post

जामनगर | गुजरात के विख्यात हृदय रोग विशेषज्ञ डॉ गौरव गांधी के अचानक निधन हो जाने से जामनगर में शोक की लहर है. उनका मंगलवार को दिल का दौरा पड़ने से निधन हो गया. वो महज 41 साल के थे. डॉ गांधी हृदय रोग के क्षेत्र में अपनी विशेषज्ञता और समर्पण के लिए जाने जाते थे.

डॉ गांधी फेसबुक पर ‘हॉल्ट हार्ट अटैक’ अभियान से जुड़े हुए थे. वह हृदय रोगों के लिए जागरूकता अभियान चलाते थे.

डॉ गांधी ने हजारों ह्रदय रोगियों के जीवन पर महत्वपूर्ण प्रभाव डाला था. उन्होंने अपने करियर के दौरान 16,000 से अधिक लोगों का सफलतापूर्वक ऑपरेशन किया था.

डॉ गांधी अपनी फिटनेस के लिए जाने जाते थे. वह ह्रदय रोगियों में आत्मविश्वास पैदा करते थे.

जामनगर में पैलेस रोड स्थित अपने घर लौटने से पहले सोमवार को डॉ. गांधी ने अपने क्लिनिक में मरीजों को देखा. घर आकर अपने परिवार के साथ खाना खाया और बिना किसी बेचैनी या अन्य समस्या के सोने के लिए चले गए. अगली सुबह परिवार वो बेहोश मिले. उन्हें तुरंत अस्पताल ले जाया गया.

अस्पताल पहुंचने पर डॉक्टर गौरव को मृत घोषित कर दिया गया. उनके निधन से शोक की लहर दौड़ गई और लोगों को विश्वास नहीं हुआ कि वो अब इस दुनिया में नहीं हैं.

डॉ गौरव गांधी ने जामनगर में रहकर पढ़ाई की और मेडिकल की डिग्री हासिल की. इसके बाद अहमदाबाद से उन्होंने कार्डियोलॉजी में विशेषज्ञता हासिल की. इसके बाद वो जामनगर वापस लौट आए थे और यही प्रैक्टिस करते थे.

हिंदी पोस्ट वेब डेस्क
(इनपुट्स: आईएएनएस)


The Hindi Post