स्मृति ईरानी ने खाली कर दिया बंगला, मिला था उनको नोटिस, VIDEO

The Hindi Post

नई दिल्ली | बीजेपी नेता संजीव बालियान को चुनाव हारने के बाद बंगला खाली करने का नोटिस मिला है. आज बंगला खाली करने की आखिरी तारीख है. नियमों के मुताबिक, चुनाव में हारे हुए सांसदों को सरकारी बंगला खाली करने के साथ ही मंत्री पद से भी इस्तीफा देना पड़ता है. इसके बाद यही बंगला चुनाव जीतकर आए हुए सांसदों को आवंटित किया जाता है.

इस लोकसभा चुनाव में मोदी मंत्रिमंडल के 17 केंद्रीय मंत्रियों को हार का सामना करना पड़ा. इसमें से अब तक आरके सिंह, अर्जुन मुंडा, महेंद्रनाथ पांडेय, स्मृति ईरानी, संजीव बालियान, राजीव चंद्रशेखर, कैलाश चौधरी, अजय मिश्रा टेनी, वी मुरलीधरन, निशित प्रामाणिक, सुभाष सरकार, साध्वी निरंजन ज्योति, रावसाहेब दानवे, कौशल किशोर, भानुप्रताप वर्मा, कपिल पाटिल, भगवंत खुबा, भारती पवार को बंगला खाली करने का नोटिस मिल चुका है. गत 5 जून को ही राष्ट्रपति ने पुरानी लोकसभा भंग कर दी थी. इसके बाद नई लोकसभा का गठन हुआ.

संजीव बालियान को बीजेपी ने मुजफ्फरनगर लोकसभा सीट से टिकट दिया था. वो समाजवादी पार्टी के प्रत्याशी हरेंद्र सोलंकी से 24 हजार मतों के अंतर से हार गए थे. बालियान एनडीए के साझे उम्मीदवार थे. जयंत चौधरी की राष्ट्रीय लोकदल से अलायंस के बाद यह सीट बीजेपी के खाते में गई थी.

मोदी सरकार 2.0 में एक और कद्दावर मंत्री रहीं स्मृति ईरानी को भी बंगला खाली करने का नोटिस दिया गया था. उन्होंने अपना दिल्ली स्थित बंगला खाली कर दिया है. स्मृति ईरानी अमेठी सीट से कांग्रेस प्रत्याशी के हाथों एक लाख से भी ज्यादा मतों से हार गई थी.

आईएएनएस

 


The Hindi Post
error: Content is protected !!