पिछले 14 दिनों में 12वीं बार बढ़े पेट्रोल, डीजल के दाम

0
250
फोटो: आईएएनएस (फाइल)
The Hindi Post

नई दिल्ली | सरकारी तेल विपणन कंपनियों ने सोमवार को बीते 14 दिनों में 12वीं बार पेट्रोल, डीजल की कीमतों में बढ़ोतरी की है। देश में बीते 14 दिनों में राष्ट्रीय राजधानी में पेट्रोल की कीमतों में 8.40 रुपये प्रति लीटर की वृद्धि हुई है।

इन कीमतों में 4 महीने से ज्यादा के अंतराल के बाद पहली बार 22 मार्च को बदलाव किया गया था।

सोमवार को नई दिल्ली में पेट्रोल-डीजल के दाम में एक बार फिर 40 पैसे प्रति लीटर की बढ़ोतरी की गई।

पंप की कीमतों के अनुसार, राष्ट्रीय राजधानी में पेट्रोल की कीमत अब 103.81 रुपये प्रति लीटर और डीजल 95.07 रुपये प्रति लीटर है।

विज्ञापन
विज्ञापन

आर्थिक राजधानी मुंबई में पेट्रोल और डीजल के दाम 118.83 रुपये प्रति लीटर से बढ़ाकर 103.07 रुपये प्रति लीटर कर दिए गए।

इसके अलावा, पेट्रोल, डीजल की कीमतें कोलकाता में भी बढ़ी हैं। पेट्रोल की कीमत बढ़कर 113.45 रुपये और डीजल 98.22 रुपये प्रति लीटर हो गया है।

चेन्नई में भी पेट्रोल की कीमत अब 109.34 रुपये और डीजल 99.42 रुपये प्रति लीटर है।

ईधन की कीमतें नवंबर 2021 से बीते मंगलवार तक स्थिर रहीं, जब केंद्र ने पेट्रोल और डीजल पर उत्पाद शुल्क में क्रमश: 5 रुपये और 10 रुपये प्रति लीटर की कमी की थी।

तेल विपणन कंपनियों ने विभिन्न कारकों जैसे रुपया से अमेरिकी डॉलर विनिमय दर, कच्चे तेल की लागत और अन्य के बीच ईंधन की मांग के आधार पर परिवहन ईंधन लागत में बदलाव किया है।

Mobile Guru 22

दरअसल, अंतिम कीमत में उत्पाद शुल्क, मूल्य वर्धित कर और डीलर का कमीशन शामिल है।

व्यापक रूप से यह अपेक्षा की गई कि कच्चे तेल की उच्च लागत के कारण ओएमसी मौजूदा कीमतों में बदलाव करेगी।

हाल ही में रूस के खिलाफ प्रतिबंधों के कारण तंग आपूर्ति की आशंकाओं के कारण कच्चे तेल की कीमतों में उतार-चढ़ाव रहा है।

कच्चे तेल की कीमत सीमा भारत के लिए चिंता का विषय है क्योंकि यह अंतत: पेट्रोल और डीजल की बिक्री कीमतों में 10-15 रुपये जोड़ सकती है।

फिलहाल भारत अपनी जरूरत का करीब 85 फीसदी कच्चे तेल का आयात करता है।

आईएएनएस

हिंदी पोस्ट अब टेलीग्राम (Telegram) और व्हाट्सप्प (WhatsApp) पर है, क्लिक करके ज्वाइन करे


The Hindi Post