फिल्म ‘द कश्मीर फाइल्स’ को ‘अश्लील’ कहने पर इस्राइली फिल्म निर्माता के खिलाफ शिकायत दर्ज

0
144
The Hindi Post

नई दिल्ली | दिल्ली के रहने वाले एक वकील ने फिल्म ‘द कश्मीर फाइल्स’ के लिए ‘दुष्प्रचार’ और ‘अश्लील’ जैसी शब्दों का इजरायली निर्देशक नदव लापिड द्वारा इस्तेमाल करने पर उनके खिलाफ शिकायत दर्ज कराई है. फिल्म ‘कश्मीर फाइल्स’ कश्मीर में हिंदू नरसंहार की कहानी पर आधारित है. लैपिड भारत के अंतर्राष्ट्रीय फिल्म महोत्सव के अंतर्राष्ट्रीय प्रतियोगिता खंड के जूरी अध्यक्ष थे. अंतर्राष्ट्रीय फिल्म महोत्सव सोमवार को गोवा में आयोजित किया गया था.

लैपिड ने अपने समापन भाषण के दौरान कहा था, “हम सभी, 15वीं फिल्म द कश्मीर फाइल्स से परेशान और हैरान थे. यह हमें एक प्रचार, अश्लील फिल्म की तरह लगा, जो इस तरह के एक प्रतिष्ठित फिल्म समारोह के कलात्मक प्रतिस्पर्धी वर्ग के लिए अनुपयुक्त है.”

सुप्रीम कोर्ट के वकील और सामाजिक कार्यकर्ता विनीत जिंदल ने कहा कि, “लैपिड द्वारा दिए गए बयान का कंटेंट स्पष्ट रूप से समूहों के बीच दुश्मनी भड़काने की उनकी मंशा को दर्शाता है. “कश्मीर में इस्लामी आतंकवादियों द्वारा हिंदुओ का नरसंहार किया गया था. इस सच्ची घटना पर बनी फिल्म को ‘प्रचार’ और ‘अश्लील’ कहकर, इजरायली निर्देशक नदव लापिड ने हिंदुओं के बलिदान को गाली दी है. साथ ही वो हमारे देश में नफरत भड़का रहे हैं.”

जिंदल ने अपनी शिकायत में आगे कहा कि लापिड द्वारा अपराध – धारा 121 (युद्ध छेड़ने का प्रयास), 153 (दंगा भड़काने के इरादे से केवल उकसाना चाहते हैं), 153 ए और बी (वैमनस्य, शत्रुता या घृणा की भावनाओं को बढ़ावा देना) के तहत किया गया है। धर्म, जाति, जन्म स्थान, निवास, भाषा आदि के आधार पर विभिन्न समूहों के बीच, 295 (किसी भी वर्ग के धर्म का अपमान करने के इरादे से पूजा स्थल को अपवित्र करना), 298 (किसी की धार्मिक भावनाओं को ठेस पहुँचाने का इरादा) व्यक्ति) और भारतीय दंड संहिता के 505 (जनता, या जनता के किसी भी वर्ग के लिए भय या अलार्म पैदा करने का इरादा) के तहत किया गया है. ये संज्ञेय अपराध हैं और प्रकृति में बहुत गंभीर हैं.

भारत में इजरायल के राजदूत नोर गिलोन ने भी फिल्म निर्माता लैपिड की आलोचना की. उन्होंने कहा कि लैपिड को खुद पर शर्म आनी चाहिए. गिलॉन ने कहा, “…भारत और इस्राइल के बीच दोस्ती बहुत मजबूत है.”

हिंदी पोस्ट वेब डेस्क/आईएएनएस


The Hindi Post