केंद्रीय गृह मंत्रालय ने सीएपीएफ, असम राइफल्स में ‘अग्निवीरों’ के लिए 10 प्रतिशत आरक्षण की घोषणा की

0
102
The Hindi Post

नई दिल्ली | अग्निपथ सैन्य भर्ती योजना के खिलाफ देशव्यापी विरोध प्रदर्शन के बीच, केंद्र ने शनिवार को केंद्रीय सशस्त्र पुलिस बलों (सीएपीएफ) और असम राइफल्स में ‘अग्निवीरों’ के लिए 10 प्रतिशत आरक्षण की घोषणा की है। केंद्रीय गृह मंत्रालय ने ट्विटर पर इसकी घोषणा की।

केंद्रीय गृह मंत्रालय ने लिखा कि, “गृह मंत्रालय ने CAPFs और असम राइफल्स में होने वाली भर्तियों में अग्निपथ योजना के अंतर्गत 4 साल पूरा करने वाले अग्निवीरों के लिए 10% रिक्तियों को आरक्षित करने का महत्वपूर्ण निर्णय लिया है।”

गृह मंत्रालय ने कहा कि उसने “सीएपीएफ और असम राइफल्स में भर्ती के लिए अग्निवीरों को निर्धारित ऊपरी आयु सीमा से अधिक तीन साल की छूट देने का भी फैसला किया है।”

“साथ ही गृह मंत्रालय ने CAPFs और असम राइफल्स में भर्ती के लिए अग्निवीरों को निर्धारित अधिकतम प्रवेश आयु सीमा में 3 वर्ष की छूट देने का निर्णय किया है। और अग्निपथ योजना के पहले बैच के लिए यह छूट 5 वर्ष होगी।”

गृह मंत्रालय की घोषणा ऐसे समय पर आई है जब हिंसक विरोध-प्रदर्शन ने देश को हिला कर रख दिया है।

शुक्रवार को सिकंदराबाद स्टेशन पर बड़े पैमाने पर हिंसा हुई जब सैकड़ों युवाओं ने तोड़फोड़ की, ट्रेनों और वहां रखे सामानों में आग लगा दी।

स्थिति को नियंत्रित करने के लिए रेलवे पुलिस द्वारा की गई फायरिंग में एक व्यक्ति की मौत हो गई और चार अन्य घायल हो गए।

लगातार तीन दिनों से हो रही भारी हिंसा के बीच कई संगठनों ने शनिवार को बिहार बंद का ऐलान किया है जो इस समय जारी है। इस बीच जहानाबाद में आंदोलनकारियों ने दिन में चार वाहनों में आग लगा दी।

आईएएनएस


The Hindi Post