यूपी पुलिस भर्ती परीक्षा रद्द होने पर बोले अखिलेश यादव – “पहले तो भाजपाई कह रहे थे कि पेपर लीक……”

0
168
The Hindi Post

लखनऊ | समाजवादी पार्टी (सपा) के राष्ट्रीय अध्यक्ष अखिलेश यादव ने यूपी पुलिस सिपाही भर्ती परीक्षा रद्द करने को युवाओं की जीत बताया है.

उन्होंने शनिवार को कहा कि यूपी पुलिस आरक्षी परीक्षा का निरस्त होना युवाओं की जीत है और भाजपा सरकार के प्रपंचों की हार है. पहले तो भाजपाई कह रहे थे कि पेपर लीक ही नहीं हुआ तो अब कैसे मान लिया कि लीक हुआ है. इसका मतलब है अधिकारी और अपराधी मिले हुए थे और सरकार भी पीछे से अपना हाथ उनके सिर पर रखे हुई थी. लेकिन, तमाम सबूतों के आगे चुनाव में ऐतिहासिक हार से बचने के लिए सरकार झुकने पर मजबूर हुई है.

 विज्ञापन

विज्ञापन

उन्होंने कहा कि भाजपा सरकार नौकरियों के नाम पर जो खेल बेरोज़गार युवक-युवतियों से खेल रही है, उसका सच सब समझने लगे हैं. दिखावे के लिए नौकरियां निकालना, अरबों रुपये की फीस ले लेना, पेपर लीक होने देना, फिर निरस्त करने का नाटक करना, ये खेल भाजपा को इस बार बहुत महंगा पड़ेगा.

अखिलेश यादव ने कहा कि युवा कह रहे हैं कि फीस के नाम पर जो पैसा लिया गया है, कहीं वो भाजपा का चुनावी फंड न बन जाए, इसलिए अभ्यर्थियों का फार्म जमा रहे, लेकिन भाजपा सरकार फीस का पैसा अभी लौटाए और जब कभी दुबारा परीक्षा हो तो ऑनलाइन डिजिटल पेमेंट से तुरंत फिर से फीस ले.

आईएएनएस

 


The Hindi Post