14 साल के चार लड़को ने अपनी सहपाठिका से की ‘गंदी हरकत’, पोक्सो एक्ट के तहत मुकदमा दर्ज

0
162
सांकेतिक तस्वीर (आईएएनएस)
The Hindi Post

चैन्नई | 14 वर्षीय चार लड़कों ने कुछ दिन पहले अपनी सहपाठिका के साथ उसके घर पर रेप करने की कोशिश की जिसके बाद इन पर पॉक्सो एक्ट के तहत मामला दर्ज किया गया। इन सभी लड़को को एक सुधार केंद्र में भेजा गया है।

पुलिस ने कहा है कि पीड़िता के साथ यौन संबंध नहीं बने है। चारो लड़के अश्लील फिल्में देखते थे और जैसा उन्होंने इन फिल्मों में देखा वैसा अपनी सहपाठिका के साथ करने की कोशिश करी। ये लड़के अक्सर लड़की के घर पढ़ाई करने जाते थे।

ये घटना कुछ दिन पहले हुई लेकिन इसका पता तब चला जब लड़की की छोटी बहन ने इसकी सूचना अपनी मां को दी। लड़की ने कहा कि एक दिन जब माता-पिता दोनों ऑफिस गए थे, तो लड़के घर आए थे और छोटी बहन को बाहर जाकर खेलने के लिए कहा। उन्होंने कहा उन्हें पढ़ना है।

विज्ञापन
विज्ञापन

लड़की ने मां को बताया कि कुछ देर बाद जब वह वापस आई तो जिस कमरे में उसकी बहन और उसके दोस्त थे, उसका दरवाजा बंद था, लेकिन कुंडी नहीं लगी थी। छोटी बहन अंदर गई और अपनी बहन को बिना कपड़ों के देखा। इसके बाद बड़ी बहन ने छोटी बहन को से यह सब किसी को न बताने के लिए कहा।

हालांकि पुलिस ने बताया कि कुछ दिनों बाद जब दोनो बहनों में कहासुनी हो गई तो छोटी बहन ने अपनी मां को घटना की जानकारी दी और इसके बाद बुधवार को रोयापुरम थाने में शिकायत दर्ज कराई गई। पुलिस ने केस की छानबीन के बाद लड़कों पर पोक्सो एक्ट के तहत मामला दर्ज कर सुधार केंद्र भेज दिया।

साथ ही किशोरी को काउंसलिंग के लिए पुनर्वास केंद्र भेजा गया।

विज्ञापन
विज्ञापन

मेडिकल डॉक्टर से सामाजिक कार्यकर्ता बनी एम.आर. मयंगना ने आईएएनएस से कहा, “माता-पिता को बच्चों पर नजर रखनी चाहिए कि वे क्या देख रहे हैं, किससे मिल रहे हैं, और उनके बीच क्या हो रहा है ताकि ऐसी घटनाओं को रोका जा सके। पुलिस ने कहा कि लड़के नियमित रूप से अश्लील फिल्में देख रहे थे और इन लड़कों के माता-पिता को ऐसी चीजों को रोकने के लिए उन पर नजर रखनी चाहिए थी। यह देखना होगा कि क्या लड़की पहले भी यौन उत्पीड़न का शिकार हुई थी और क्या इसमें चार लड़कों के अलावा कोई और शामिल था।”

आईएएनएस

हिंदी पोस्ट अब टेलीग्राम (Telegram) और व्हाट्सप्प (WhatsApp) पर है, क्लिक करके ज्वाइन करे


The Hindi Post