नाबालिग लड़की से क्रूरता, शरीर पर चोटों के निशान, प्राइवेट पार्ट में मिले लकड़ी के टुकड़े, डॉक्टर भी देख रह गए हैरान, आरोपी दंपति गिरफ्तार

0
558
प्रतीकात्मक फोटो | आईएएनएस
The Hindi Post

प्रयागराज (उत्तर प्रदेश) | यूपी के प्रयागराज से एक दिल दहला देने वाली घटना सामने आई है. यहां एक 11 वर्षीय लड़की के साथ ऐसी अमानवीय ओर क्रूर हरकत की गई कि उसे जानकार किसी की भी रूह कांप जाए.

इस बच्ची को नगर के छावनी बोर्ड अस्पताल में भर्ती कराया गया है. उसके शरीर पर गंभीर चोटें है. यह चोटें बता रही है कि उसके साथ जुल्म हुआ.

डॉक्टरों को न केवल उसके शरीर पर यातना के निशान मिले बल्कि उसके प्राइवेट पार्ट में लकड़ी के टुकड़े पड़े हुए थे.

बच्ची को अस्पताल लाने वाली महिला का दावा है कि उसने नाबालिग को गोद लिया था. उसने बताया कि वो बच्ची की ममी है. हालांकि, लड़की की चोटों के बारे में पूछे गए सवालों का संतोषजनक जवाब नहीं देने पर पुलिस ने उसे हिरासत में ले लिया. बाद में पति-पत्नी दोनों को पुलिस ने गिरफ्तार कर लिया.

आरोपी महिला ने डॉक्टर सिद्धार्थ पांडे को फोन किया और बताया कि 11 साल की बच्ची को भाई-बहन के बीच हुई लड़ाई में मामूली चोटें आई हैं.

अगली सुबह, वह लड़की के साथ अस्पताल पहुंची. जब डॉक्टर ने बच्ची का परिक्षण किया तो वह हैरान रह गए.

डॉ पांडे ने कहा, “एक्स-रे में बच्ची के शरीर पर कई पुरानी और नई चोटें दिख रही है. इसके बाद, एक महिला स्त्री रोग विशेषज्ञ द्वारा उसका परिक्षण किया गया जिसमें पता चला कि उसके प्राइवेट पार्ट में लकड़ी के टुकड़े पड़े थे. लड़की के हाथ में फ्रैक्चर भी था. बच्ची के शरीर पर चोटों को देखते हुए हमने पुलिस को सूचित किया”.

आरोपी महिला शहर के धूमनगंज इलाके के एक अपार्टमेंट की रहने वाली है और उसका पति एक नामी स्कूल में शिक्षक है.

महिला ने दावा किया कि उसने कानपुर के एक आश्रय गृह से लड़की को गोद लिया था, लेकिन लड़की ने कहा है कि उसकी मां की मृत्यु और उसके पिता द्वारा परित्याग के बाद आरोपी (महिला) उसे घर ले आई थी.

डॉक्टर पांडेय ने बताया कि बच्ची ने यह खुलासा किया कि उसे नियमित रूप से भूखा रखा जाता था और एक महीने में 14 दिनों तक भोजन नहीं दिया जाता था.

धूमनगंज थाने के एसएचओ राजेश मौर्य ने कहा कि आरोपी महिला को गिरफ्तार कर लिया गया है. आरोपी महिला का नाम अंजना सिन्हा है. उनके पति की पहचान अरुण कुमार के रूप में हुई है.

उन्होंने कहा कि घायल लड़की का छावनी बोर्ड अस्पताल में इलाज चल रहा है.

महिला ओर उसके पति के खिलाफ डिजिटल रेप सहित अन्य गंभीर धाराओं में मुकदमा दर्ज किया गया है.

पुलिस मामले की जांच में जुटी हुई है.

हिंदी पोस्ट वेब डेस्क
(इनपुट्स: आईएएनएस)


The Hindi Post