जानिए कौन है इशिता किशोर जिन्होंने सिविल सर्विस परीक्षा 2022 में किया टॉप?

0
373
The Hindi Post

नई दिल्ली | सिविल सेवा परीक्षा 2022 को टॉप करने वाली इशिता किशोर ने यह मुकाम हासिल करने के लिए एक लंबा सफर तय किया है. इतनी बड़ी कामयाबी हासिल करने वाली इशिता को शुरूआती दौर में नाकामियों का सामना भी करना पड़ा. इशिता ने बताया कि इससे पहले वह इस परीक्षा को पास करने के लिए दो प्रयास कर चुकी है लेकिन उन्हें कामयाबी नहीं मिली थी. इशिता किशोर ने दिल्ली विश्वविद्यालय (इशिता श्री राम कॉलेज ऑफ कॉमर्स की पूर्व छात्रा है) से बीए ऑनर्स किया है. उनके मुताबिक मधुबनी पेंटिंग बनाना उनका शौक है.

दिल्ली से कुछ दूरी पर स्थित ग्रेटर नोएडा में अपने अभिभावकों के साथ रह रही इशिता किशोर ने बताया कि सिविल सर्विसेज को लेकर यह उनका तीसरा प्रयास था. शुरूआती 2 प्रयासों में सफलता नहीं मिली थी. हालांकि यह विफलताएं इशिता के इरादों को कमजोर नहीं कर सकी. उनका कहना है कि आज इस मुकाम तक पहुंचने के लिए उन्होंने एक लंबी यात्रा तय की है. इशिता किशोर का कहना है कि वह बीते 3 सालों से लगातार यूपीएससी की तैयारी कर रही थी.

मंगलवार को यूपीएससी की टॉपर घोषित किए जाने के बाद इशिता बेहद प्रसन्न दिखी. उन्होंने कहा कि इस परीक्षा को पास करने के लिए बीते 3 साल में उन्होंने बहुत मेहनत की है.

अपनी इस कामयाबी का श्रेय उन्होंने मुख्य तौर पर अपनी मां को दिया. इशिता ने इस विषय पर कहा कि इस कामयाबी का श्रेय किसी एक व्यक्ति को नहीं दिया जा सकता. इशिता के मुताबिक कोई भी व्यक्ति अकेले कामयाब नहीं हो सकता. इसमें बहुत से लोगों का प्रयास शामिल होता है. हालांकि अपनी मां को लेकर उन्होंने कहा कि उन्हें मां का सहयोग हमेशा  मिलता रहा. इशिता ने कहा कि उनकी मां उनका सबसे बड़ी सपोर्ट सिस्टम है.

इशिता ने बताया कि उनकी मां हर कदम पर उनके साथ खड़ी रही. मां कहती थी कि तुम केवल पढ़ाई करो और बाकी सारी बातें मुझ पर छोड़ दो.

इशिता ने यूपीएससी परीक्षा की तैयारी करने वाले छात्रों के लिए अपने संदेश में कहा कि पूरी गंभीरता के साथ अपनी तैयारी करें. उन्होंने कहा कि सभी छात्र जो सिविल सर्विस एग्जाम की तैयारी कर रहे है उन्हें अपनी कमजोरियों और ताकत पर ध्यान केंद्रित करना चाहिए और दूसरों से कभी भी अपनी तुलना नहीं करनी चाहिए.

गौरतलब है कि संघ लोक सेवा आयोग यानी यूपीएससी ने सिविल सर्विसेज की परीक्षा और इंटरव्यू का फाइनल रिजल्ट मंगलवार दोपहर को जारी कर दिया. इशिता किशोर ने यूपीएससी 2022 की परीक्षा में टॉप किया है. खास बात यह है कि पहले चार स्थानों पर लड़कियां ने बाजी मारी है. यूपीएससी के मुताबिक, इस बार कुल 933 अधिकारियों का चयन इस परीक्षा के माध्यम से किया गया है. पास होने वाले कुल उम्मीदवारों में से इस बार कुल 183 सफल उम्मीदवारों का चयन आईएएस अधिकारियों के रूप में किया गया है.

जहां इन परीक्षाओं की टॉपर इशिता किशोर बनी है वही दूसरे नंबर पर गरिमा लोहिया हैं, तीसरा स्थान उमा हराती एन को हासिल हुआ है. चौथे नंबर पर स्मृति मिश्रा है.

आईएएनएस


The Hindi Post