तालाब में गिर गए फोन को वापस पाने के लिए अधिकारी ने बहाया लाखों लीटर पानी, प्रशासन ने किया निलंबित

0
461
The Hindi Post

कांकेर | गर्मी का मौसम है और कई इलाकों के लोग पानी के संकट से जूझ रहे हैं. ऐसे में छत्तीसगढ़ के कांकेर में एक अजब ही मामला सामने आया है. यहां सेल्फी लेते वक्त फोन तालाब में क्या गिरा उसे हासिल करने के लिए तालाब ही खाली करा दिया. यह कारनामा करने वाले खाद्य निरीक्षक को निलंबित कर दिया गया है. सैकड़ो लीटर पानी बर्बाद करने के लिए खाद्य निरीक्षक को सस्पेंड किया गया है.

जानकारी के अनुसार, कांकेर जिले के पखांजूर में परलकोट जलाशय है. यहां बड़ी संख्या में लोग गर्मी से राहत पाने के लिए आते हैं. यहां खाद्य निरीक्षक (फ़ूड इंस्पेक्टर) राजेश विश्वास भी अपने मित्रों के साथ पहुंचे थे. वे जब सेल्फी ले रहे थे तभी उनका महंगा फोन जिसकी कीमत लगभग डेढ़ लाख रुपए बताई जा रही है, तालाब के पानी में समा गया. फिर क्या था राजेश विश्वास परेशान हो उठे.

खाद्य निरीक्षक ने अपने मित्रों के साथ मिलकर फोन को खोजा मगर तालाब से वे फोन को हासिल नहीं कर पाए. दूसरे दिन उन्होंने आसपास के इलाके के दुकान संचालकों को इस काम में लगाया और गोताखोरों की भी मदद ली पर इसके बावजूद भी सफलता उनके हाथ नहीं लगी. फिर क्या था राजेश विश्वास ने तालाब का पानी खाली कराने के लिए मोटर लगवा दी और पानी तेजी से बाहर निकला. लगभग चार दिन यह सिलसिला चला और जलाशय का लगभग 6 फुट पानी खाली हो गया. बताया जा रहा है कि 21 लाख लीटर पानी बहा दिया गया. यानि 21 लाख लीटर पानी की बर्बादी. तब गोताखोर लगाकर फोन खोजा गया. आखिरकार सफलता मिल ही गई. फोन मिल गया.

कांकेर के खाद्य अधिकारी जनमेजय नायक ने आईएएनएस को बताया है कि जलाशय को खाली कराने वाले निरीक्षक राजेश विश्वास को निलंबित कर दिया गया है.

आईएएनएस/हिंदी पोस्ट वेब डेस्क


The Hindi Post