श्रद्धा के शरीर के 17 से ज्यादा टुकड़े किए, आफताब ने कबूला: चार्जशीट

0
227
फाइल फोटो
The Hindi Post

नई दिल्ली | श्रद्धा वॉल्कर हत्याकांड में दिल्ली की साकेत अदालत में पुलिस द्वारा दायर चार्जशीट में कहा गया है कि, अपनी लिव-इन पार्टनर श्रद्धा वॉल्कर की हत्या का आरोपी – आफताब अमीन पूनावाला ने श्रद्धा के शरीर को 17 से अधिक टुकड़ों में काटा था.

चार्जशीट के मुताबिक, पिछले साल 18 मई को श्रद्धा की हत्या करने के बाद, पूनावाला दक्षिणी दिल्ली के छतरपुर इलाके में स्थित अपने किराए के आवास में लॉक लगा के पास की एक हार्डवेयर की दुकान पर गया था, जहां से उसने एक आरी, तीन ब्लेड, एक हथौड़ा और प्लास्टिक की क्लिप खरीदी थी.

उसने अपने दूसरे बयान में कहा, “इसके बाद मैं वापस फ्लैट पर आया और श्रद्धा के शरीर को बाथरूम में शिफ्ट कर दिया. यहां मैंने आरी की मदद से उसके हाथों को कलाई से काट दिया और उन्हें सफेद पॉलीथिन में रख दिया..उसकी कलाई काटते वक्त आरी से मेरा बायां हाथ भी मामूली रूप से कट गया था.”

अगले दिन 19 मई 2022 को पूनावाला ने 25,000 रुपये में एक रेफ्रिजरेटर खरीदा और उसी दिन शाम तक दुकानदार ने फ्रिज को उसके (आफताब) के पते पर भेज दिया. उसने कबूल किया, “मैंने 19 मई (श्रद्धा के मारे जाने के एक दिन बाद) एक फ्रिज खरीदा था ताकि मैं श्रद्धा के शरीर के बाकी हिस्सों को बदबू और सड़ने से बचाने के लिए रेफ्रिजरेटर में रख सकूं.”

19-20 मई, 2022 की दरम्यानी रात करीब 2 बजे उसने सबसे पहले शव की जांघ को लाल बत्ती के पास महरौली-गुरुग्राम रोड स्थित छतरपुर पहाड़ी के जंगल में ठिकाने लगा दिया. पूनावाला ने कबूल किया – “अगले 4-5 दिनों में, मैंने उसके शरीर को 17 टुकड़ों में काट दिया- हाथ छह टुकड़े, पैर छह टुकड़े, सिर, धड़, श्रोणि (पेट का निचला हिस्सा) के दो टुकड़े और अंगूठा. मैं अपनी सुविधा के अनुसार एक-एक करके शरीर के अंगों को फेंक देता था”.

उसने शरीर के कुछ हिस्सों को ट्रैश बैग में पैक कर दिया था और बाकी को फ्रीजर में रख दिया था. खून साफ करने के लिए उसने शॉपिंग ऐप ब्लिंकिट से टॉयलेट क्लीनर, ब्लीच, हैंडवाश और अन्य सामान खरीदा था. चार्जशीट में कहा गया है कि वॉल्कर की हत्या करने के तुरंत बाद, वह डेटिंग ऐप बंबल के जरिए एक लड़की के संपर्क में आया और वह उसके (आफताब) फ्लैट पर भी गई और कई बार रात में वही रुकी.

पूनावाला ने पुलिस को बताया, जब भी वह मेरे फ्लैट पर आती थी, मैं फ्रिज साफ कर देता था और श्रद्धा के शरीर के अंगों को किचन में छुपा देता था. उसके जाने के बाद, वह शरीर के शेष हिस्सों को रेफ्रिजरेटर में रख देता था. वॉल्कर को मारने और एक लड़की को डेट करने के बाद भी पूनावाला वॉल्कर के इंस्टाग्राम अकाउंट का इस्तेमाल करता रहा, जो उसके फोन से लॉग ऑन था. उसने उसके दोस्त लक्ष्मण से भी श्रद्धा बन कर बात की थी.

उसने अपने कबूलनामे में कहा- “हत्या के दिन, मैंने उसके मोबाइल फोन से 54,000 रुपये अपने खाते में दो बार ट्रांसफर किए. उसके बाद, मैं जून के पहले सप्ताह में वसई में अपने किराए के घर से सामान लेने के लिए मुंबई गया मैं वापस दिल्ली आ गया जब मुझे महाराष्ट्र पुलिस ने श्रद्धा के बारे में पूछताछ करने के लिए बुलाया, तो मैंने उसका फोन फेंक दिया.”

पुलिस ने 24 जनवरी को इस मामले में चार्जशीट दायर की थी,. यह चार्जशीट 6,000 से अधिक पन्नो की हैं. मंगलवार को चार्जशीट पर संज्ञान लेने के बाद कोर्ट ने मामले की जांच के लिए 21 फरवरी की तारीख मुकर्रर की है.

आईएएनएस


The Hindi Post